ग्रेस पनिसरा – डॉल फैशन में चमकता सितारा

गुड़िया! हाँ, बिल्कुल सही सुना आपने। आप विश्वास नहीं करेंगे, लेकिन कुछ लोग अपने खाली समय में कुछ फैंसी कपड़ों के साथ बहुत कुछ कर सकते हैं। इस आर्टिकल में ऐसी ही एक हस्ती के बारे में हम जानेंगे जिनका नाम है ग्रेस पनिसरा।

COVID को मात देने वाले 6 भारतीय राजनेता

लगभग 1 साल से सम्पूर्ण विश्व COVID-19 महामारी से जूझ रहा है । पूरी दुनिया में लगभग 6 करोड़ लोग COVID से संक्रमित हो चुके हैं और इससे राजनेता भी अछूते नहीं हैं ।

देशों के द्वारा तय की विवाह के लिए महिलाओं की औसत आयु

वर्तमान समय में विश्वस्तर पर विवाह का सामान्य चलन परिवर्तित हो गया है। जो देश आर्थिक रूप से जितना अधिक स्थिर और उन्नत है वहाँ के लोगों को लगता है कि वे देर से विवाह कर लेंगे।

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रिय छः भारतीय

आज सोशल मीडिया का जमाना है । अगर आपको अपनी पहचान बनानी हैए तो सोशल मीडिया पर एक चर्चित अकाउंट होना बहुत ज़रूरी है। इंस्टाग्राम, ट्विटर, फेसबुक इत्यादि के माध्यम से हम चर्चित शख्सियतों को बहुत ही नज़दीक से जान पाते हैं । उनके सामाज़िक सरोकार जनमानस को उनके प्रति आकर्षित करते हैं । उनके फॉलोवर्स की संख्या उन्हें चर्चित बनाती है । प्रमुख चर्चित व्यक्तित्व निम्नवत हैं ।

कैसे एक साधारण आदमी बॉलीवुड के सेलेब्स का पसंदीदा दोस्त बन गया

अनेक लोग अपनी मनपसंद हस्तियों के साथ तस्वीर खिंचवाना चाहते हैं। लेकिन उन हस्तियों तक पहुँच पाना सरल नहीं है। ऐसे लोगों की मन की मुराद पूरी करने का सरल साधन है- ‘फोटोशाप’। जिससे कोई भी अपनी मनपसंद हस्ती के साथ अपनी फोटो बनवा सकता है। किसी की ऐसी एक दो फोटो होना सामान्य बात है। लेकिन अगर किसी की हर बड़ी हस्ती के साथ फोटो हो तो यह नजर अंदाज करने की बात नहीं है। अगर हम इंस्टाग्राम पर जाएँ तो देखेंगे वहाँ एक अनसीन फ्रेंड (Unseen Friend), जिसकी हर बड़ी हस्ती के साथ फोटो है।

10 सर्वश्रेष्ठ भारतीय हस्तियाँ जब वे युवा (छोटे) थे

सपनों की माया नगरी मुंबई जहाँ सितारों को छूने की उम्मीद लेकर अनेक नए चेहरे आते हैं, जिनमें से कुछ अपनी मंजिल पा लेते हैं और कुछ गुमनामी के अंधेरों में खो जाते हैं। यहाँ अनेक कलाकार ऐसे भी हैं जिन्होंने बचपन से ही बाल कलाकार के रूप में अपने कदम जमा लिए थे और एक दिन वे स्वप्न नगरी के आसमान पर सितारों की तरह जगमगाए। हम आपको ऐसे ही कुछ कलाकारों के विषय में बताने जा रहे हैं –

दीपिका पादुकोण के विषय में 8 रोचक तथ्य

मुंबई की मायानगरी के आकाश पर अनेक जगमगाते नामी सितारे हैं जिन्होंने सफलता की बुलंदियों को छुआ है। उन्ही में से एक है दीपिका पादुकोण। मायानगरी का अनमोल सितारा, जिसने अपनी मेहनत और लगन से यह मुकाम हासिल किया। आम हम उन्ही के विषय में कुछ रोचक बातें बताने जा रहे हैं।

योगा पर आसक्त बाॅलीवुड की 7 अभिनेत्रियाँ

योग दिवस के द्वारा आमजन जागरूक हुए या नहीं यह तो नहीं मालूम लेकिन हमारी बाॅलीवुड अभिनेत्रियाँ योगा की दिवानी हैं। इन्होंने योग के द्वारा न सिर्फ उम्र के प्रभाव को कम कर रखा वरन इसकी सहायता से ये चुस्त-दुरूस्त होने के साथ आज भी भारतीय दर्शकों के दिलों पर राज कर रही हैं।

आठ भारतीय फिल्म कलाकार जो अपने यू ट्यूब चैनल के स्वामी हैं

संचार क्रांति के इस दौर में यू ट्यूब एक ऐसा माध्यम है जो लोगों को अपने विचार प्रकट करने का आधार प्रदान करता है। इस पर अपना चैनल बनाने के लिए धन का निवेश नहीं करना पड़ता है। यह संचार साधन सभी वर्ग के व्यापारियों के लिए अहम साबित हो रहा है। यह बाजार और विज्ञापन के लिए भी उपयोगी है। इसकी बढती लोकप्रियता देखते हुए फिल्मी दुनिया के अनेक ऐसे कलाकार हैं जिन्होंने यू ट्यूब पर अपना स्वयं का चैनल बना लिया है।

ब्लांडी एनड्री द्वारा रोटी की असाधारण तलाश(और शायद स्वादिष्ट)

बेकिंग क्वीन हन्ना। उत्तरी कैरोलिना में कहीं न कहीं सबसे प्रचलित खाद्य पदार्थ संभाव्य बेहतरीन कला के रूप में स्थापना कर रही है।

चमगादड़के बारे में 17 अविश्वसनीय, अकल्पनीय तथ्य

चमगादड़ इस पृथ्वी पर एकमात्र ऐसा अद्भुत प्राणी है जो उड़न स्तनधारी है।दुनिया में बहुत से लोंगो की पसन्द में इसे शुमार किया जाता है। अधिकाधिक समानताओं के बावज़ूद इनकी प्रजातियों में अलग अलग जींवन शैली देखने को मिलती है। इनकी विशेषताएं निम्नवत हैं।

वे घटनायें जिनके कारण कोरोना का प्रकोप तेज़ी से फैला

सम्पूर्ण देश में इस समय कोरोना के लगभग 35 हज़ार मामले संदिग्ध पाए गए हैं । लॉक डाउन को 17 मई तक बढ़ा दिया गया है । आखिर प्रश्न यह उठता है कि . वे कौन से कारण थे जिनके कारण भारत में इस वायरस का विस्तार इतनी तेजी से हुआ

विश्व में सबसे धनी 8 क्रिप्टो करेंसी स्वामी

बिटकाॅयन की शुरूआत 3 जनवरी 2009 को हुई। यह एक ऐसी मुद्रा है जिसकी सिर्फ गणना होती है। इसका आभास किया जा सकता है पर यह दृष्टिगोचर नहीं होती क्योंकि इसका कोई भौतिक रूप नहीं है। वास्तव में यह डिजिटल युग की डिजिटल करेंसी है जो सिर्फ कम्प्यूटर नेटवर्किंग के द्वारा विनिमय करती है। इसके प्रयोग में कोई शुल्क नहीं लगता। इसकी क्रेडिट लिमिट नहीं है। इसका मूल्य इसकी आपूर्ति और माँग के अनुसार बढ़ता रहता है।