पिघलती हुई पर्माफ्रॉस्ट बन सकती है अगली महामारी का कारण

आज हम जिस महामारी की आशंका जता रहे है उसका सम्बंध भी प्रकृति से ही है। आइए जानते है की कैसे धरती पर जमी हुई करोड़ों साल पुरानी बर्फ़ की ज़मीन से आ सकती है अगली महामारी।


कोविड 19 ने ली इन सेलिब्रिटीज़ की जान

पिछले 2 वर्षों से कोरोनावायरस हमारे बीच घात लगाए बैठा है। हर दिन लाखों लोग अपनी जान गवां रहे थे। उसमे कुछ ऐसी जानी पहचानी हस्तियां भी थी जो इसका शिकार हुई।

2021 की 12 सबसे लोकप्रिय अभिनेत्रियाँ

इस बात से कोई इंकार नहीं किया जा सकता है कि बॉलीवुड में दुनिया की कुछ सबसे खूबसूरत अभिनेत्रियाँ हैं, जैसा आप सोचते हैं । ऐसा शायद इसलिए है कि उनमें से कई ने अपने अभिनय करियर की शुरुआत मॉडल के रूप में की थी।

बिशम्बर दास, पहली ब्रिटिश एशियाई प्लस-साइज़ मॉडल कि प्रेरक कहानी

एक समय था जब किसी मॉडल को इंडस्ट्री में जगह बनाने के लिए खुद को हर पैमाने पर खरा साबित करना पड़ता था। सौभाग्य से, वे दिन काफ़ी हद तक समाप्त हो गए हैं ।

बंगाल चुनाव में ममता बनर्जी की जीत के 7 कारण

पश्चिम बंगाल चुनाव में राज्य की जनता ने एक बार फिर से ममता बनर्जी को विजयी बनाया है और राज्य की कमान उन्हें सौंप दी है। ममता के सामने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी के अन्य दिग्गज नेताओं की नहीं चली और अंततः ममता बनर्जी की जीत हुई।

दुनिया के अन्य देशों के साथ भारत के अच्छे संबंध की 6 वजहें

किसी भी देश की विदेश नीति का मुख्य आधार देशहित होता है और ऐसा ही भारत के साथ भी है। भारत अंतर्राष्ट्रीय शांति एवं सुरक्षा को बेहतर बनाने, विभिन्न देशों के बीच मैत्रीपूर्ण संबंध बनाए रखने के लिए हमेशा प्रयास करता रहा है।

भारत में COVID की दूसरी घातक लहर के 8 कारण

पहली लहर की पीक एक दिन में अधिकतम 98 हजार मरीज़ों के साथ बनी थी, जिसके बाद संक्रमितों की संख्या में धीरे-धीरे कमी आने लगी और पहली लहर समाप्त हुई। लेकिन, मार्च 2021 में COVID की दूसरी लहर की शुरुआत हुई जोकि पहली लहर से कई गुना घातक साबित

भारतीय सिनेमा के शीर्ष 6 लेजन्ड

हभारतीय सिनेमा में बॉलीवुड के हर अभिनेता ने योगदान दिया है। लेकिन कुछ अभिनेता लिविंग लेजन्ड हैं जो अपने अभिनय और शैली के लिए जाने जाते हैं, और उन्होंने भारतीय सिनेमा में अपनी एक विशिष्ट पहचान बनाई है।

भारत में 7 उच्चतम पेड न्यूज़ एंकर

पत्रकारिता को पहले अच्छी आय वाले प्रोफेशन के रूप में नहीं देखा जाता था। लेकिन अब ये बात नहीं है और आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि जाने माने कमेंटेटर भी पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना भाग्य आज़मा रहे हैं।